Diamond Shield Crystal Zapper

नया डायमण्ड शील्ड क्रिस्टल जैपर – जैपर तकनीक के एप्लिकेशन और संभावनाओं में एक क्रांति! अनेक एप्लिकेशनों वाला उच्च गुणवत्ता का जैपर.

डायमण्ड शील्ड क्रिस्टल 500x 8बिट

नये कार्यक्रम :

    • संपूर्ण शिरोबिंदु प्रणाली की गहनता नियंत्रण के लिए क्रिस्टल
  • डायमण्ड शील्ड एक सार्वभौमिक क्षतिपूर्ति और नियमन एप्लिकेशन
  • विश्राम
  • स्वास्थ्यप्रद
  • वापस
  • BO

नवीनताएं जो शामिल किए गए स्टेण्डर्उ और डायमण्ड शील्ड चिपकार्ड कार्यक्रमों में एकीकृत हैं ::

  • यादाश्त क्रिया
  • श्रव्य संकेत सहित या इसके बगैर स्वत: आरंभ क्रिया
  • कीलॉक
  • लड़खड़ाना
  • माइक्रो करंट (0.1 वोल्ट तक)
  • स्थिर करंट नियंत्रण
  • मॉड्यूलेशनन : 2 से गुना मॉड्यूलेशन
  • आवेग मुक्ति (ग्राउंउिंग) ग्राउंड में आवेग जारी करने और मुक्ति के द्वारा सभी कार्यक्रमों की प्रभावकारिता में 3 गुणा वृद्धि हुई है। (उपयोगिता मॉडल सुरक्षा लंबित)
  • डायमण्ड शील्ड : आपके बेहतर स्वास्थ्य के लिए सुरक्षा शील्ड

    सभी शिरोबिंदुओं का 8 मिनट में नियमन, मिलाना, सक्रियाण इसकी प्रभावकारिता द्वारा पहले के कार्यक्रमों की सभी फ्रिक्वेंसियां मॉड्युलेशन और सुदृढ़ की गई हैं।

  • बेकलेयन के अनुसार सुरिला दोलन सभी स्तरों पर विश्राम

Development of the Crystal Zapper

प्राकृतिक स्वास्थ्य पेशेवर बेकलेयन द्वारा यह खोज करने के बाद कि चीनी एक्युपंक्चर में सभी शिरोबिंदुओं की सभी आवृतियां गणितीय अनुपात में संबंधित हैं, उसने हार्मोनिक आवृत्ति एप्लिकेशन विकसित किया जिसे अब जैवऊर्जा समुदाय द्वारा आक्रामक ढंग से लिया गया।

उसने फिर स्वयं से निम्नलिखित सवाल किए :

यदि सभी शिरोबिंदु एक-दूसरे से गणितीय अनुपात में हैं, क्या यह स्पष्ट नहीं होगा कि एक्युपंक्चर शिरोबिंदु में सभी बिंदु इन नियमों को पालन करते हैं? उसके आगामी अनुसंधान ने उसके संदेहों की पुष्टि कर दी।

इससे हासिल करके उन्होंने जैपर इस्तेमाल करने का एक बिल्कुल नया विचार विकसित किया। जीवविज्ञान संरचनाओं के संग्रह के रूप में जाना जाता है जिन्हें क्रमबद्ध होना अनिवार्य है :

हाइड्रोजन बाइंड़जन/क्रिस्टल जैपर

हाइड्रोजन-बाइंडुजन
Xiaohui Qiu, नैशनल सेंटर फॉर नैनोसाइंस एन्ड टैक्नॅलोजी, बीजिंग

डेंड्राइटिस्की जैलन/क्रिस्टल जैपर

डेंड्राइटिस्की जैलन (http://www.igb.fraunhofer.de)

गेवेबस्चनित्त मेंसचलिचेर कॉपफहौत/क्रिस्टल जैपर

गेवेबस्चनित्त मेंसचलिचेर कॉपफहौत

Fußप्रत्येक क्युपंक्चर बिंदु के आसपास सामान्यत: एक विद्युत क्षेत्र है, जो व्यवस्थित होना जरूरी है।

ये क्षेत्र ऐसी किसी भी ऐसी चीज से अव्यवस्थित हो जाते हैं जो इनसे संबंधित नहीं है, जैसे सभी संभावित रोगजनक कारक।

इन व्यवस्थित क्षेत्रों को पूर्वस्थिति में करने के लिए जोकि सभी शारीरिक कार्यों के लिए आवश्यक है, आपको केवल उन्हें वायब्रेट करना है जो इस व्यवस्थित क्षेत्र में पुन: प्रकट और संगठित हो सकता है।

इस प्रभाव को मजबूती देने के लिए मॉड्युलेशन और अन्य स्तर एकीकृत किए गए हैं।

फिर ये “व्यवस्थापक आवृतियां” ध्‍ीरे-धीरे सही गणितीय समय लंबाई और विराम के साथ पंक्तिबद्ध की गई।

इसका परिणाम लगभग 100 मिनट के एक विशाल कार्यक्रम के रूप में सामने आया।

इस कार्यक्रम को लागू करने में संपूर्ण शरीर की सभी संरचनाएं आगामी एक घंटा और चालीस मिनट के दौरान पुर्नव्यवस्थित की गई।

शरीर के एक्युपंक्चर बिंदुओं की ये विशिष्ट आवृतियां उत्तकों की समाप्त हुई संरचनाएं पुर्नस्थापित करने में इस्तेमाल की जाती है, एक्युपंक्चर बिंदु को केंद्र में रखते हुए एक के बाद दूसरे क्षेत्र नामित करते हुए।

अनुस्मारक के तौर पर : अनेक बिंदु शिरोबिंदु प्रणाली की अन्य शाखाओं से आंतरिक रूप से जुड़े होते हैं। यह एप्लिकेशन को शरीर के सबसे गहन परतों तक पहुँचने देता है।

एशियाई शिरोबिंदु प्रणाली/क्रिस्टल जैपर

एशिया में हजारों वर्षों से प्रचलित है कि नाभि से नीचे का क्षेत्र, In Asia for thousands of years it has been known that in the area below the navel, the “ऊर्जा का सागर” पूरे शरीर के लिए ऊर्जा के संग्राहक के रूप में स्थित है, जिसके द्वारा सभी शिरोबिंदुओं को आपूर्ति होती है, और वापस भमजी जाती हैं (लेकिन उन शिरोबिंदुओं को जो अन्य से जुड़े हैं).

एक खास बेल्ट का शुक्रिया, सूक्ष्म तरंगों के रूप में आवृतियां सीधे “ऊर्जा के सागर” में भर देती है और वहां से अनुरूप बिंदु तक प्रतिघ्वनित होती हैं, जो इसके आसपास को व्यवस्थित करता है।

और अब अतुल्य अनुभूति :

जैवऊर्जा परीक्षणों ने दर्शाया है कि एक्युपंक्चर बिंदुओं के चारों ओर क्षेत्रों में सभी संरचनाएं (ऊत्तक और उपापचय) अपने आपको व्यवस्थित करते हैं, दूसरे शब्दों में, सभी बाहरी पदार्थ अर्थात अर्थात पर्यावरणीय विष, परजीवी, किटाणु, बारेलिया, वायरस मोल्ड वहां लबे समय तक नहीं ठहर सकते हैं। वहां से जो संबंधित नहीं है, कुछ नहीं रह सकता। यही ग्राउंड ब्रेकिंग है!

प्रभाव सौम्य होता है क्योंकि दैनिक इस्तेमाल के कारण शरीर के संरचनाओं की कुछ समय के लिए छंटाई होती है, जो इस तथ्य पर ले जाती हैं कि इन संरचनाओं के अंदर सभी रोगयुक्त निक्षेप ठहर नहीं सकता, क्योंकि वे हमारी संरचना का हिस्सा नहीं हैं (Chladny के अनुरूप आंकड़े)। यह पूरे शरीर की गहन सफाई और विषरहित करता है। ऊत्तक की संरचना पुन: अपनी क्रिस्टललयुक्त संरचना हासिल करती है : इसीलिए मैने इसका नामकरण “क्रिस्टल जैपर”किया है।

क्रिस्ट जैपर की अद्भुत विशेषता है : आप जितना देत तक इस्तेमाल करेंगे, आप उतना ही स्वस्थ होंगे।

कार्यविधि का व्याख्यात्म मॉडल :

जैवऊर्जा परीक्षणों ने बार-बार दर्शाया है कि जब क्रिस्टल जैपर एप्लिकेशन के 24 घंटे बादे पुन: परीक्षण करने पर सभी लोड में हमेशा पिछले दिन की मात्रा की अपेक्षा 10 प्रतिशत कमी हुई है। यह प्रक्रिया बहुत लंबे समय तक जारी रहती प्रतीत होती है। दूसरे शब्दों में कहें तो, लबे समय तक लागू करने पर इसके प्रभाव उतने ही गहरे होंगे।

Loads

डायमण्ड शील्ड क्रिस्टल जैपर द्वारा शरीर पर तनाव कम हो जाता है

हर रोज या प्रति सेकंड या तीसे दिन जब यह जैपर या यह कार्यक्रम इस्तेमाल किया जाता है, शरीर में गहरी और ज्यादा सफाई प्रदान करता है।

यह दर्शाया गया है कि शरीर में भारी लोड जब और परीक्षण योग्य नहीं रहता क्योंकि शरीर की सामान्य संरचना समायोजित हो गई है, आगामी छुपे हुए स्थानों तक जहां ये लोड रहते हैं, पहुँचता है।

इनमे विशिष्‍ट स्थान मल पदार्थों, साइनस, अपेंडिक्स, टॉन्सिल, दांत, मध्य कान, लिम्फ नोड्स, संयुक्त उपास्थि (रक्त की केवल थोड़ा आपूर्ति है) की परतों के नीचे आंतों की पॉकेट हैं। ऊत्तकों की बाहरी परते व्यवस्थित होने के बाद इन गहरी परतों की बारी आती है।

ऐसी दुनिया में जहां भार और पर्यावरणीय विष लगातार बगैर रूके प्रतिदिन बढ़ रहे हैं, हमें निश्चित रूप से अपने शरीर को पुर्नव्यवस्थित अैर दैनिक रूरूप से विषहरण को बढ़ावा देना चाहिए।

हमें लगातार शरीर को विषरहित और स्वच्छ करने की आवश्यकता है। क्रिस्टल जैपर कार्यक्रम शरीर को अंदर से ज्यादा गहराई तक विष रहित और संगठित करने का आदर्श तरीका है।

डायमण्ड शील्ड और क्रिस्टल जैपर में क्या अन्तर है?

स्चट्जचाइल्ड डेस डायमण्ड शील्ड क्रिस्टल जैपर

डायमण्ड शील्ड जैपर, जैसा कि नाम दर्शाता है शिरसेबिंदुओं को साफ करके, एक बेहतर प्रवाह बनाकर और शरीर के ऊर्जा नेटवर्क के माध्यम से उपचार प्रक्रियाओं को पुन: समायोजित करके बाहरी प्रभावों के विरूद्ध शील्ड की भांति एक मौलिक उपचार है,

क्रिस्टल जैपर प्रत्येक शिरोबिंदु की सभी संरचनाओं और इस शिरोबिंदु से जुड़े हुए सभी के साथ आवंटित होते हैा। यह इस क्षेत्र को ज्यादा और गहराई तक विषरहित करता है।

इस तरह यह दुनिया की पहली प्रणाली है जो शरीर को गहराई तक लेकिन सौम्य और ऊर्जात्मक आधार पर स्वच्छ करती है।

Special Features

  • 1. क्रिस्टल जैपर में एक मेमोरी फंक्शन होता है!

इसका मतलब सभी कार्यक्रम जो आपने पिछले सत्र जहां पर छोड़े थे वहीं से पुर्नस्थापित किए जा सकते हैं।

  •  2. क्रिस्टल जैपर में एक कीलॉक है..
  •  3क्रिस्टल जैपर में एक अलार्म घड़ी फंक्शन है

य्वत: आरंभ करने के लिए 2 अलग अलग क्रम में सेट किया जा सकता है। यह आरंभ ध्वनियुक्त या इसके बगैर संकेत के साथ सेट किया जा सकता है; उदाहरण के लिए इसे प्रत्येक दूसरे दिन के लिए भी सेट किया जा सकता है।

एक और चीज :

उन सभी ग्राहकों के लिए जिनके पास पहले ही डायमण्ड शील्ड जैपर है :

क्रिस्टल जैपर एक “क्रिस्टल जैपर चिपकार्ड” के रूप में भी उपलब्ध है जो कि डायमण्ड शील्ड के अनुकूलित है!

इससे अधिक ग्राहक संतुष्टि संभव नहीं है.

क्रिस्टल जैपर इस्तेमाल करते समय उपयोगकर्ता को ग्राउंड पर लेटने की जरूरत नहीं क्योंकि प्रोग्राम सूक्ष्म तरंगों अर्थात 1 वोल्ट से भी कम के साथ चलता है, और यहां कोई निगेटिव आवेश उत्पन्न नहीं होता है। इसलिए आप अदृश्य बेल्ट के साथ घुम-फिर सकते हैं या रात्रि को सोने भी जा ससकते हैं।

Results discussion

All users are enthusiastic and want to continue, because they feel that there is a lot changing!

गहनतम परतों में छिपे हुए पर्यावरणीय विष और रोगजनकों तक पहुँचता है और धीरे-धीरे तथा सौम्य ढंग से निकाले जाते हैं जब तक अन्त: कोशिका स्थानों तक नहीं पहुँच जाता है। इसी कारण से और समान जैवऊर्जात्मक परीक्षणों से स्वच्छता प्रक्रिया पूरी होने में 8 महीने तक का समय लग सकता है।

दुनिया की पहली ऊर्जात्मक संघटन एप्लिकेशन।

यह कोर्स होम्योपैथी या चीनी चिकित्सा की संघटन एप्लिकेशन की अत्याधिक स्मृति दिलाता है, इनमें से कोई भी एकमात्र पद्धति इतने कम समय में इतने नियमित और गहरे प्रभाव नहीं डालती है। हम जो यहां देखते हैं उसके लिए परंपरागत होम्योपैथी पद्धति में कई वर्ष चाहिएं और यह संबंधित चिकित्सक की क्षमताओं पर भी निर्भर करता है, और इस प्रकार यह बहुत अधिक खर्चीला भी होगा।

आपको इस प्रक्रिया के गहरे प्रभाव को अपनाने से इंकार नहीं करना चाहिए।

प्रत्येक “युग” में, हरेक पीढ़ी सही चिकित्सा प्रक्रियाएं और तकनीक प्राप्त कर लेती है जो उस समय की माँग होती है। इसे मि. बेकलेयन पहले ही 1998 में अपन पुस्तक : “Parasites – The Hidden Cause of Many Diseases,” में लिख चुके हैं।

जब पहला जैपर नब्बे के अंतिम वर्षों में बाजार में आया, और अधिक आने शुरू हो गए।

और अब? उपलब्धियां ज्यादा कठिन और कम समय के लिए होती हैं। इसी कारण अब क्रिस्ट जैपर तकनीक उपलब्ध है। यह हमारे समय के अनुकूल है।

प्राकृतिक चिकित्सा पेशेवर बेकलेयन के अनुसार अगले 7 वर्षों में बहुकारकों जनित रोग और रोग पाठ्यक्रम और जटिल हो जाएंगे।

क्रिस्टल जैपर एक प्रत्येक व्यक्ति के लिए एक सहज स्व-चालित विषहरण, पुनर्जनन और रोकथाम प्रदान करता है।